वोट बैंक के लिए नेहरू ने जिंदा रखा राम मंदिर का मुद्दा- गिरिराज सिंह

वोट बैंक के लिए नेहरू ने जिंदा रखा राम मंदिर का मुद्दा- गिरिराज सिंह

केंद्रीय लघु और कुटीर उद्योग मंत्री गिरिराज सिंह ने देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू पर वोट बैंक की राजनीति के लिए जानबूझकर अयोध्याय में राम मंदिर बनाने के मुद्दे को जिंदा रखने का आरोप लगाया। साथ ही उन्होंने सरदार वल्लभभाई पटेल के देश के पहले प्रधानमंत्री बनने पर इस मु²े को पहले ही सुलझ जाने का दावा किया।

 

nehru-kept-alive-ram-temple-s-issue-for-vote-bank-politics-giriraj

 

 

कोलकाता

केंद्रीय लघु और कुटीर उद्योग मंत्री गिरिराज सिंह ने देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू पर वोट बैंक की राजनीति के लिए जानबूझकर अयोध्याय में राम मंदिर बनाने के मुद्दे को जिंदा रखने का आरोप लगाया। साथ ही उन्होंने सरदार वल्लभभाई पटेल के देश के पहले प्रधानमंत्री बनने पर इस मु²े को पहले ही सुलझ जाने का दावा किया।
केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा है कि राम मंदिर के मुद्दे पर हिंदुओं के धैर्य की परीक्षा नहीं लेना ठीक नहीं है।

जिन्होंने अल्पसंख्यकों के खिलाफ असहिष्णुता का हवाला देकर राम मंदिर निर्माण का विरोध किया उन्हें पाकिस्तान जाना चाहिए और देखना चाहिए कि वहां पर कैसा लोकतंत्र है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगर सरदार वल्लभभाई पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री बने होते तो मंदिर मुद्दा पहले ही सुलझ गया होता। गिरिराज ने आरोप लगाया कि जवाहरलाल नेहरू ने वोट बैंक की राजनीति की खातिर इस मुद्दे को जानबूझकर जिंदा रखा।