रोहिंग्या आतंकवादियों ने 99 हिंदुओं का नरसंहार किया

रोहिंग्या आतंकवादियों ने 99 हिंदुओं का नरसंहार किया

म्यांमार के रखाइन प्रांत में पिछले साल हुए विद्रोह के दौरान रोहिंग्या आतंकवादियों ने हिंदू ग्रामीणों का नरसंहार किया था, एमनेस्टी इंटरनेशनल ने आज एक रिपोर्ट में यह बात कही है जिससे इस इलाके में जारी जटिल जातीय संघर्ष पर नई जानकारी सामने आई है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि यह हत्याएं 25 अगस्त, 2017 को हुई थी। उसी दिन रोहिंग्या विद्रोहियों ने पुलिस नाकों पर जानलेवा हमला किया था जिससे देश में संकट फैल गया।

म्यांमार की सेना ने इन विद्रोही छापे पर जवाबी कार्रवाई में निष्ठुर प्रतिहिंसा की। जिसके बाद करीब 7,00,000 रोहिंग्या मुसलमानों को बौद्ध बहुल देश से पलायन करना पड़ा, जहां उन्हें सालों से उत्पीड़न का सामना करना पड़ रहा था।

संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि सेना की कार्रवाई से रोहिंग्या के “जातीय सफाया” हुआ। इसमें सैनिकों और हिंसक भीड़ पर नागरिकों की हत्या और गांवों को जलाने का आरोप लगा था।

लेकिन रोहिंग्या आतंकवादियों पर भी उत्पीड़न का आरोप लगाया गया है। इनमें रखाइन के बहुत दूर उत्तर में हिंदुओं की सामूहिक हत्या शामिल है, जहां सितंबर के महीने में सेना एएफपी समेत संवाददाताओं को ले गई थी कि वे कब्र से सड़ गई लाशों को निकालने की कार्रवाई को देख सकें।

अराकान रोहिंग्या सैल्वेशन आर्मी (एआरएसए) के नाम से जाना जाने वाले आतंकवादियों ने उस समय इन हत्याओं की जिम्मेदारी लेने से इनकार कर दिया था।

लेकिन एमनेस्टी इंटरनेशनल ने आज कहा कि एक नई जांच ने पुष्टि की है कि इस समूह ने उत्तरी माउंगदा में खा मंग सेक गांवों में 99 हिंदुओं को मार डाला था जिनमें ज्यादातर बच्चे शामिल थे।

3 thoughts on “रोहिंग्या आतंकवादियों ने 99 हिंदुओं का नरसंहार किया

  1. Great post. I was checking constantly this blog and I’m impressed!

    Very helpful information specifically the last part 🙂 I care for such info much.
    I was looking for this particular information for a very long time.

    Thank you and good luck.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *